होम News शब-ए-बरात के लिए गृह विभाग के दिशानिर्देश of जारी किया …

शब-ए-बरात के लिए गृह विभाग के दिशानिर्देश of जारी किया …

शब-ए-बरात के लिए गृह विभाग के दिशानिर्देश of जारी किया …

कोरोना को ध्यान में रखते हुए इस साल भी सभी तरह के धार्मिक त्योहार, उत्सव और सभी कार्यक्रम बहोत ही साधारण तरीके से मनाए जाने के निर्देश दिये गये है अभी भी कोरोना का प्रकोप कम नहीं हुई है जिसके चलते राज्य के साथ-साथ कई बड़े शहरों में मरीजों की संख्या फिर से बढ़ रही है। इसलिए जो स्थिति उत्पन्न हुई है, उसे देखते हुए, इस वर्ष शब-ए-बारा को भी बहोत ही साधरण तरीके से मनाने की आवश्यकता है। इसे लेकर सरकार के गृह विभाग की ओर से निम्नलिखित दिशा निर्देश जारी किये गए है।

इस पूरे निर्देश में किआ तरह से गाइडलाइन जारी की गई है उसके महत्वपूर्ण मुद्दे इस प्रकार है …

1) शब-ए-बारात के मौके पर सभी मुस्लिम भाई-बहन अपनी-अपनी मस्जिदों में रात भर नमाज, कुरान और दुआ करते हैं। इसलिए बहुसंख्यक मुस्लिम इलाको में रात भर हलचल रहती है। साथ ही कुछ जगहों पर वाज़ कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाता है। इस साल भी कोरोना की स्थिति को देखते हुये इस वर्ष 28 मार्च की रात और दिन 29 मार्च, 2021 की सुबह (चंद्रग्रहण के आधार पर), शब-ए-बारात के लिए किसी भी जुलूस के आयोजन के बिना मस्जिद या घर में ही दुआ करे।इस वाबत स्थानीय जन-प्रतिनिधियों और प्रशासन द्वारा जागरूकता पैदा की जानी चाहिए।

2) शब-ए-बारात के अवसर पर, स्थानीय मस्जिद में नमाज पढ़ने के लिये आनेवाले मुश्लिम भाइ किसी प्रकार कि कोई भी भीड न करे।कम से कम कुल 40 से 50 व्यक्ति ही सामाजिक दूरी का पालन करते हुए बिना किसी भीड़ के मास्क का उपयोग करके दुआ करे।

3) मस्जिद के प्रबंधन को मस्जिद और उसके आस-पास, सामाजिक दूरी और स्वच्छता नियमों (मास्क, सैनिटाइज़र, आदि) में कीटाणुशोधन की प्रणाली पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

4) शब-ए-बारात के दौरान होने वाली ‘वाझ’इस कर्यक्रम का आयोजन मुमकिन हो तो किसी सीमित जगह पर करे।खुले जगह पर करने से यह भी सुनिश्चित करे कि किसी प्रकार की कोई भीड़ न हो।,और इस जगह पर सामाजिक दूरी के नियम का पालन हो ये भी देखे।

5) कोरोना को लेकर मम्बई में लागू कि गई भारतीय सविंधान की धारा धारा 144 के तहत जारी आदेश का सभी कड़ाई से पालन करे।

6) शब-ए-बारात के संबंध में,वाझ कार्यक्रम के आयोजकों को केबल नेटवर्क, वेबसाइटों और फेसबुक के माध्यम से इस कार्यक्रम को ऑनलाइन उपलब्ध कराना चाहिए।

7) कोरोना वायरस को ध्यान में रखते हुये, इस महामारी को रोकने के लिये सरकारी राहत, पुनर्वास, स्वास्थ्य, पर्यावरण, चिकित्सा शिक्षा विभाग के साथ-साथ संबंधित नगर निगम, पुलिस प्रशासन, स्थानीय प्रशासन द्वारा निर्धारित नियमों का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए। आदेश में यह भी कहा कि यदि आदेश के बाद और त्योहार की वास्तविक शुरुआत के बीच कोई और निर्देश जारी किए जाते हैं, तो उनका अनुपालन भी किया जाना चाहिए।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

मध्यमवर्गीय कोरोना मरिजो का सरकारी योजनाओ के तहत मुफ्त इलाज करे – राहुल शेवाले

मध्यमवर्गीय कोरोना मरिजो का सरकारी योजनाओ के तहत मुफ्त इलाज करे सांसद राहुल शेवाले जी ने की मुख्यमंत्री जी...

मजलूम फिलिस्तीनियों के लिए यौमे दुआ करने की अपील

मजलूम फिलिस्तीनियों के लिए यौमे दुआ रजा एकेडमी ने 12 मई को सभी से दुआ करने की अपील की

मुंबई में पिडीयाट्रीक बेड्स बढ़ाने की शुरुवात

तिसरी लहर की आशंका के मद्देनजर बीएमसी ने मुंबई में पिडीयाट्रीक बेड्स बढ़ाने की शुरुवात की है। बीएमसी...

कोरोना की इस महामारी में फुटपाथ पर रहने वाले लोगों का हाल बेहाल है

कोरोना की इस महामारी में फुटपाथ पर रहने वाले लोगों का हाल बेहाल है , इनके पास अनाज का...

बीजेपी सांसद मनोज कोटक द्वारा निशुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर सेवा की शुरुआतइस कार्यक्रम में गायक सोनू निगम विशेष तौर पर मौजूद रहे

बीजेपी सांसद मनोज कोटक द्वारा निशुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर सेवा की शुरुआतइस कार्यक्रम में गायक सोनू निगम विशेष तौर पर मौजूद रहे