मराठा आरक्षम को लेकर हुई बैठक मंत्रिमंडल के उपसमिति की.

0
149

मराठा आरक्षम को लेकर हुई बैठक मंत्रिमंडल के उपसमिति की..

मुंबई – संवादाता

मराठा आरक्षण को लेकर मंत्रिमंडल के उपसमिति कि बैठक हुई । इस बेठक में सर्वोच्च न्ययालय में मराठा आरक्षण को लेकर सरकार की क्या भूमिका होगी इसे लेकर चर्चा हुई। बैठक में अशोक चव्हाण , एकनाथ शिंदे , दिलीप वलसे पाटिल मौजूद , साथ ही  बैठक में राज्य के महाधिवक्ता आशुतोष कुंभकोणी, अॅड. शिंदे, मराठा आरक्षण कामकाज उपसमिती के सचिव शिवाजी जोंधळे, उपसचिव गुरव के साथ कई अधिकारी मौजूद।17 मॉर्च को मराठा आरक्षण को लेकर सुनवाई होगी।


मुस्लिम आरक्षण को लेकर सरकार की भूमिका के बाद अब मराठा आरक्षण की मांग तेजी से उठने लगी है। ऐसे में महाराष्ट्र की महा विकास आघाड़ी सरकार किसी भी तरह से कोई कमी नही हो इसे लेकर एक बैठक की इस बैठक इस पर चर्चा हुई कि 17 मॉर्च को सर्वोच्च न्यायालय में सरकार क्या भूमिका रखेगी अपनी उसे लेकर हर पहलू पर चर्चा की। बैठक के बाद समिति के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने कहा कि मराठा आरक्षण को लेकर न्यायालय में मामला है ऐसे में सरकार किसी भी तरह से कम नही हो इसे लेकर आज एक महत्वपूर्ण चर्चा हुई और सरकार की भूमिका है कि मराठा समाज को आरक्षण मिले।


अशोक चव्हाण  ने कहा कि सामाज को आरक्षण देने का मामला सर्वोच्च न्यायलय में है ऐसे में 17 मॉर्च को सुनवाई होने वाली है । सुनवाई से पहले यह बेठक हुई जिसमें इस बात पर चर्चा हुई कि मराठा समाज को आरक्षण मिले और सरकार अपनी भूमिका सही तरीके से न्यायलय के सामने रख सके। हमारी भूमिका है कि समाज को आरक्षण दिया जाय।

मुस्लिम आरक्षण को लेकर महा विकास आघाड़ी की सरकार में शामिल शिवसेना की क्या भूमिका है यह अब तक स्पष्ट नही हो सका है ऐसे में क्या मुस्लिम समाज को 5 प्रतिशत आरक्षण शिक्षा में मिल सकेगा या नही इस पर सवाल उठने लगे है। शिवसेना के मंत्री एकनाथ शिंदे ने इस पर कहा कि सभी समाज को साथ लेकर चलना ही सरकार की भूमिका है।


 एकनाथ शिंदे ने कहा कि मुस्लिम समाज को शिक्षा में आरक्षण मिले ऐसा कोर्ट का फैसला था इस पर मुझे जानकरी मिली कि हमारी सरकार के मंत्री नवाब मलिक ने कहा कि इस आरक्षण के मुद्दे पर कहा कि आरक्षण को लेकर निर्णय लेंगे , महा विकास आघाड़ी की सरकार सभी जाति धर्म को साथ लेकर चलने वाली सरकार है हमारे कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में सब तय है उसी के आधार पर काम कर रहे है।)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें