होम Strategy Politics राज ठाकरे के निशाने पर मोदी क्या कहा कश्मीर को लेकर

राज ठाकरे के निशाने पर मोदी क्या कहा कश्मीर को लेकर

राज ठाकरे के निशाने पर मोदी क्या कहा कश्मीर को लेकर

मुंबई – संवादाता

मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे ने आज अपने कार्यकर्ताव का मेलावा लिया मुम्बई में इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह पर जमकर निशाना साधा क्या कहा राज ठाकरे ने ।

मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे का बयान

मानसूम विभाग के अधिकरी जो गलत जानकारी देते है अफवा फैलाते है उन पर आपराधिक मामला दर्ज होना चाहिए , जब केहते है बारिश होगी होती नही।

मुख्यमंत्री और मंत्री बाढग़्रस्त इलाके का दौरा करते है मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से बाहर नही निकल रहे है मंत्री गिरीश महाजन सेल्फी निकाल रहे है।

यह कुछ भी करे लेकिन मतदान इनको ही मिलता है यह कैसे? जो आंकड़े बताते है वही आता है ऐसा क्यूं?

बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता कहते है कि अगर कांग्रेस-एनसीपी,राजू शेट्टी , राज ठाकरे यह सब साथ आय तो भी हम ही जितेंगे क्यूं की इनके पास मशीन नही है , यह किसने बोला है मुझे पता है।

मैंने सोनिया गांधी से मिला , ममता बनर्जी से मिला , अगर बीजेपी का ऐसा ही चलता रहा तो फिर चुनाव क्यूं लड़ना और दोनों ही माना कि मशीन में गड़बड़ है ओर दोनों ने कहा इस लड़ाई ने हम साथ है , चुनाव में हार जीत होती है लेकिन ऐसा नही सभी मशीनरी का इस्तिमाल कर रहे है

कश्मीर में 370 मामलेमें सब मिठाई बोल रहे है लेकिन 371 को लेकर कोई नही बोल रहा है ।

आरटीआई में बदलाव किया गया , जिससे आप को जानकरी मिलती थी अब वोह केंद्र ने अपने हात में ले लिया उनके काम और पगार सब केंद्र देखेगी , केंद्र मतलब नरेंद्र मोदी और अमित शाह , याने की जो सरकार बोलेगी वही करना होगा , जो वो चाहगी वही जानकरी मिलेगी , यह सब शुरू कैसे हुआ कि एक आरटीआई से जानकरी मांगी की नरेंद्र मोदी बीए पास है या नही । अब आरटीआई अधिकारी ही फैसला लेंगे की जानकारी देना है या नही तो फिर आरटीआई की क्या जरूरत है।

दहशतवाद विरोधी कानून बनाया

Uapa यह जो कानून है भारत को जरूरत नही है , आज तक इसका दुरुपयोग हुआ है , अटल बिहारी ने पोटा कानून लाया था जिसका दुरुपयोग हुआ।

अभी के कानून में क्या है अगर किसी ने दहशतवाद किया वो आरोपी लेकिन दहशतवाद क्या है यह नही बताया , मतलब कल किसी ने आंदोलन किया वो दहशतवादी होगा यह कौन निर्णय लेगा अमित शाह , किसी को भी उठा कर जेल में डाल कर दहशतवादी बना देंगे।

हजारों कंपनियां बंद हो रही है , इस पर किसी को नही फर्क पड़ राह है

आरबीआई से पैसे लेकर देश चलाया जा रहा है । अगर सरकार ऐसे पैसे निकालती रही और जब बैंक की हालत खराब हुई तो उनको कोन पैसे देगा ।

साल में महाराष्ट्र में 14 हजार किसान ने आत्महत्या की

370 धारा रद्द किया मान लिया , महबूबा मुफ्ती के खिलाफ कारवाई करना था उन पर करते , 371 के खिलाफ क्यों नही बोलते है ।
प्रधानमंत्री कहते हौ कश्मीर में रोजगार देंगे यहा रोजगार नही दे रहे वहा की बात कर रहे है , जो नमो नमो कर रहे है ना जब उनके घर मे बेरोजगारी दस्तक देगी तब पता चलेगा ।

सामान्य कायदा लाएंगे फिर राम मंदिर का मुद्दा लाएंगे हम खुश होंगे मिठाई बाटेंगे हमारा ध्यान भटकाने का प्रयास है

राशन कार्ड एक करने की बात कर रहे है , ताकि एक ही आदमी सभी राज्यों में मतदान कर सके , यह शुरू है बीजेपी का , क्यूं की राज्य का महत्व कम करना है , सभी भाषा और संस्कार से राज्य बना था जो यह खत्म कर देंगें।

ममता से मिलने गया था वहां उनके लिफ्ट में म्यूजिक लगे थे किशोर कुमार के बंगाली गाने और यहा क्या होता है दरवाजे बंद करे , क्या यह कि सरकार अपने भाषा का अभिमान करने के लिए लाता मंगेशकर के गाने बाजेंगे
जिसने गुजरात मे अलग भाषा के लोगो को गुजरात से मार कर बाहर किया अलपेश ठाकुर उसे बीजेपी अपनी पार्टी में शामिल करते है और हम पर केश दर्ज करते है।
आज जिस तरह से उनकी मर्जी चल रही है
कल यही विदर्भ में होगा परसो मुंबई में होगा
सबकी आवाज बंद करने का प्रयास किया जाएगा।
बीजेपी का यह काम है जो मान नही रहे है उनको खत्म करो और जिस ओर मामले दर्ज है ऐसे लोगो को साथ लो , पता है इनको कभी भी खत्म कर सकते है ।

यहा चुनाव नही है गणित है , यह जानते है कि जिन्हें मंत्रिमंडल में जगह नही देना है उन्हें हरा देना है , जैसे शिवसेना के चार मंत्री को जगह नही देना है , अमरावती से आनद अडसुल की जगह नवनीत कोर जीत जाती है , एक ऐसा आदमी जो तनाव निर्माण कर सकता है समाज मे एमआईएम वो जीत जाता है ताकि हमारा ध्यान वही रहे , अनंत गीते हार जाते है । कांग्रेस के सभी हार जाते है एक ऐसा जीत जाता है जो शिवसेना से कांग्रेस में शामिल हुआ था ,

अगर राम मंदिर की बात कर रहे है तो राम राज्य कब आएगा , जब एक धोबी ने शंका लाया राम जी ने सीता माता को वनवास में भेज दिया यहा लाखो लोग संका कर रहे तो फिर क्यूं नही कर रहे है बैलेट पेयर पर चुनाव , सिर्फ मंदिर बनेंगे केहते है कितनी मंदिर बनाएंगे।

बरसात की वजह और जिस तरह से बांढ़ की स्तिति बनी हुई उसे देखते हुए 21 अगस्त को होने वाला आंदोलन रद्द करते है और नई तारीख आप को बताया जाएगा

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

कोरोना टीकाकरण के लिए महाराष्ट्र में टास्क फ़ोर्स की स्थापना

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा की मौजूदा कोरोना की स्तिति को...

शिवसेना नेता प्रताप सरनाईक के घर और दफ्तर पर ED का छापा

शिवसेना नेता प्रताप सरनाईक के घर और दफ्तर पर ED का छापा मुंबई और ठाणे...

शुभी शर्मा का नया वीडियो सॉन्ग ‘ धीरे धीरे खरच करा ‘ मॉर्निंग स्टार रिकॉर्ड फगुआ भोजपुरी से हुआ रिलीज

दिल्ली : भोजपुरी सिनेमा की सबसे खूबसूरत हेरोइनों में से एक शुभी शर्मा अपने चाहने वालों के लिये एक नया तोहफा...

मुंबई में 31 दिसंबर तक नही खुलेंगें स्कूल

मुंबई में 31 दिसंबर तक नही खुलेंगें स्कूल मुंबई -संवाददाता मुंबई महानगर पालिका ने एक महत्वपूर्ण...

आकांक्षा दुबे के ‘कमर के तिल’ पर फिसल रहा है लोगों का दिल

आकांक्षा दुबे के 'कमर के तिल' पर फिसल रहा है लोगों का दिल दिल्ली : भोजपुरी फ़िल्म इंडस्ट्री...