होम News हेल्थमिनिस्टर राजेश टोपे ने क्या कहा महाराष्ट्र में कोरोना की स्तिति को...

हेल्थमिनिस्टर राजेश टोपे ने क्या कहा महाराष्ट्र में कोरोना की स्तिति को लेकर

स्वास्थमंत्री राजेश टोपे ने फेसबुक के जरिए महाराष्ट्र में मौजूदा कोरोना की स्तिति की जानकारी देते हुए कहा कि धारवी और अन्य जगहों पर केंद्रीय टीम के साथ मैं था, उसी के साथ मेरे कुछ पत्रकार भाइयों में और आम जनता में भी कुछ डर की स्थिति बनी हुई है,की 30 अप्रेल या 15 मई तक मुम्बई में कोरोना की संख्या अधिक बढ़ेगी।इस तरह कुछ रिपोर्ट आ रही है।

मैं मानता हु की, कुछ ये एक तरह से मैथमेटिकल मॉडल है, जिनके जरिये ये आंकड़े बताये गये है।

जरूर इसके किये कुछ विज्ञान होते है,लेकिन ये डबल रेट का आंकड़ा तब आकलन किया जा सकता है,जब कुछ नही किया हो,लेकिन हमने प्रशाशन ने कोरोना बाबत जो भी आवश्यक कदम है, वो सभी उठा रहे है।

प्रशाशन आज बड़े पैमाने पर सर्वे कर रहा है।तकरीबन 7 हजार तक कि टीम राज्य के गांव -गांव जाकर लोगो का सर्वे कर रही है।यानी कि लोगो का परीक्षण कर रही है।ये।पता लगाने की कोशिश करते है, की कोरोना बाबत सर्दी, खांसी, या बुखार या जो भी कोरोना के लक्षण है,उसकी सबसे पहले जांच करते है।और जांच के आधार के बाद ही हम।सबंधित व्यक्ति को कवारनटाईन करते है।और आगे की प्रक्रिया करते है।

आज मुम्बईकरो को कहना चाहता हूं, मेरी मुम्बई मनपा कमिश्नर के साथ-साथ मुख्य्मंत्री उद्धव ठाकरे के साथ भी चर्चा हुई है। इसके अलावा केंद्रीय जो टीम आई है,भारत सरकार की ओर से
उसमे भी यही चरचा थी कि मुम्बई में क्वारनटाईन फेसिलिटी और बढ़ाई जाए।

मैं बताना चाहता हूं कि तकरीबन 76 हजार से अधिक लोगो को उनके घर से निकालकर अलग जगहों पर रखा जाता है।जैसे स्कूल, कम्युनिटी हॉल इत्यादि में

आईशोलेशन बेड की अच्छी सुविधा हमारे पास उपलब्ध है।
तकरीबन 1 लाख 55 हजार पूरे राज्य में है।और इन सबके आधार पर टेस्टिंग फेसिलिटी पूरे देश मे सबसे अच्छी फेसिलिटी हमारे पास है।

आज तक महारास्ट्रा में 90 हजार तक टेस्ट चुके है।आज का।आंकड़ा 7012 टेस्ट हुए है।सभी दृश्टिकोण से हम काम कर रहे है।

इसलिए जब हम हर चीज बड़े पैमाने पर कर रहे है।तो ऐसे में जी एक आधार देनेवाली बात यानी कि मरीजो के डबलिंग रेट की बात कही जा रही है।मैं बताना चाहता हूं,कि हमारा डबलिंग रेट ये 7.01 पर पहुंच गया है।कुछ 8 दिन पहले ये रेट
2 से 3 पर था, फिर 5 पर गया फिर 7 पर गया।मतलब की इसमें
डबल होने में इतना वक्त लगता है

हमे इस डबलिंग रेट मर ना जाते हुए जो भी वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन और आईसीएमआर की जो गाइडलाईन है, उस आधार पर हम काम कर रहे है । जो भी डबलिंग रेट को लेकर पैनिक परिस्थिति निर्माण हुई है, उस तरह से बिल्कुल भी नही है ।हमे इन आंकड़ों पर नही जाना है।जो निर्देश है, हम उस पर काम कर रहे है।

ये भी कहना चाहूंगा कि, hot spot पहले 14 थे जो अब 5 तक का गई है।वो कम होते जा रहे है हॉट–स्पॉट।ये सब आशादायी चित्र है।

और काम करने के बाद अभी सिर्फ मुख्य तौर पर , मुंबई, पुना, नाशिक और नागपुर रह जाएंगे ।

मौत की दर पुना में कम हो रहा है।जो पहले 7 थी, अब 5 और 4 के करीब आ गई है।

टास्क फोर्स को जो सरकार ने गठन किया है, उनकी सलाह बहोत ही महत्वपूर्ण है। राज्य में जहां पर भी क्रिटिकल मरीज है , तो इस टास्क फोर्स से सलाह लेकर मौत के आंकड़े के रोकने की कोशिश की जा रही है।

अब सरकार ने फोटोबाथ सिस्टम शुरू कर रहे है,हम हम कई नई चीजो की शुरुवात कर रहे है।जैसे जिसमे फ़ोटोबाथ है।जिसमे पीपी किट न लगाकर सही अर्थ में जल्दी अच्छा हो, सेफ डिस्टेंस में अच्छा हो, सुरक्षितता उसमे हो,वह। वहां पीपी किट की जरूरत ना पड़े।इसलिये इस तरह की सुविधा हमने अभी कस्तूरबा अस्पताल में शुरू की है।आनेवाली दिनों में हम मुम्बई में इस फोटोबाथ सिस्टम को 100 जगहों पर शुरु करने जा रहे है।

प्लाज्मा को लेकर परमिशन हमे आईसीएमआर की ओर से मिल गई है। जिसके तहत हम अच्छे हुए मरीज का प्लाज्मा लेकर कोरोना से पीड़ित मरीज को ठीक करने का प्रयोग करंगे

आगे हमारी तैयारी आगे की स्थिति को लेकर भी है।मरीजो की संख्या भी जरूर बढ़ रही है।लेकिन यहां पर भी घबराने की कोई आवश्यकता नही है।इसलिए मैं बार -बार लोगो से ये अपील करता हूँ, की।आपके पास या अन्य किसी की भी इस तरह की जानकारी मिलती है, की किसी भी सबंधित शख्श में कोरोना के लक्षण दिखाई देते है, तो इस तरह की जानकारी प्रसाशन को दे, या कोरोना नजदीकी सेंटर में जाकर अपने को चेकअप कराये।

मैं बता दु की तकरीबन प्रतिदिन 13 प्रतिशत लोग ठीक होकर लोग घर जा रहे है।और बड़े आशा के साथनख रहा हूँ, की तकरीबन 83 प्रतिशत लोग पुरि तरह से नार्मल है, जिनमे किसी प्रकार का कोई भी लक्षण नही है।इसलिए कहता हूं जिनमे कीड़ी भी प्रकार का लक्षण हो, वो अपने नजदीकी सेंटेर में जाकर चेक आप करवाए।

माइल्ड टू मॉडरेट मरीज 17 प्रतिशत के करीब है।और बडे आशा के साथ महज 1 प्रतिशत मरिज है, जिन्हें ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है।

फिलहाल किसी को वेंटिलेटर की जरूरत पड़ रही है, अब तक बहोत ही कम है।

लॉकडाउन की स्थिति को लेकर मैं कुछ बोलना चाहता हूं, की किसी भी प्रकार किं ना करे गड़बड़ी ।शोशल।डिस्टेंसी का।पालन करे।

राशनिग खाने की मुख्य बात है, राशन कार्ड नये मीले इस तरह की सुविधा की भी हम जिला तहसीलदार को को कह रहे है।

लोगो को बोलना था, आज इसलिये मैं आया।24 घन्टे हमारी सेवा जारी है।और हमार पूरा ध्यान है।कोरोना की हर स्थिति पर

लोगो में बड़े पैमाने पर ब्रह्म फैल रहा है।मुझे ऐसा लगता है, की कुछ जो व्हाट्सअप्प यूनिवर्सिटी है, वो हाल ही में कुछ बातों को फैलाने काम।कर रहे है।इसमें कुछ भाग हो सकता है, लेकिन जब हम कुछ भी नही करेंगे तब।ये सब एक तरह से मैथमेटिकल
का एक अनुमान है।

हमारा प्रशाशन जो भी कदम है, उसे प्रभावी रूप से उठा रहा है।फिर चाहें कोविड -19 के टेस्टिंग सेंटर हो या कवारनटाईन की जगह या फिर जिनको संस्थात्मकनकवारन टाईन किया गया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का हुआ निधन..

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल का हुआ निधन.. मुंबई : कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में से एक अहमद...

ठाणे क्राइम ब्रांच ने एमडी के साथ एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार

ठाणे क्राइम ब्रांच ने एमडी के साथ एक ब्यक्ति को गिरफ्तार किया ठाणे क्राइम ब्रांच ने एमडी के साथ...

चित्रपट से जुड़ी समस्यों को लेकर राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से की मुलाकात – बीजेपी चित्रपट कामगार संघटन के प्रतिनिधि मंडल 

चित्रपट से जुड़ी समस्यों को लेकर राज्यपाल भगतसिंह कोश्यारी से की मुलाकात - बीजेपी चित्रपट कामगार संघटन के प्रतिनिधि मंडल 

प्रमोद प्रेमी के साथ भोजपुरी सिनेमा में एंट्री मार रहा है ये हीरो, लग्जरी लाइफ स्टाइल की वजह से दोस्त कहते हैं ‘बी एम...

प्रमोद प्रेमी के साथ भोजपुरी सिनेमा में एंट्री मार रहा है ये हीरो, लग्जरी लाइफ स्टाइल की वजह से दोस्त कहते हैं...

कोरोना टीकाकरण के लिए महाराष्ट्र में टास्क फ़ोर्स की स्थापना

महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा की मौजूदा कोरोना की स्तिति को...