होम News कोरोना को लेकर मुंबई में नई गाइडलाइन , पालन नही करने वालो...

कोरोना को लेकर मुंबई में नई गाइडलाइन , पालन नही करने वालो पर कारवाई होगी…

मुंबई महानगर पालिका ने मुम्बई में बढ़ते मामलों को लेकर जारी किये नये निर्देश

उन सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया जाएगा जो कोरेनटाइन ,शादी – समारोह के साथ ही सार्वजनिक आयोजन को लेकर बने नियम को तोड़ने का काम करेंगे।

मुम्बई मनपा कमिश्नर नगर इकबाल सिंह चहल ने दिए कड़े आदेश ।

1)पाँच से अधिक मरीजी पाये जाने पर सबंधित इमारत की जाएगी सील ।

2) जो मरीज होम क्वारन टाइन होंगे,उनके हाथों पर मनपा अपना स्टैम लगाएगी।

3) बिना मास्क के लोकल में यात्रा करनेवालो पर कि जाएगी।इसके लिए 300 लोगो की एक मार्शल टीम बनाई गई है।

4)बिना मास्क के लोकल में सफर करनेवालो पर कार्यवाही करने के लिए मार्शल युनिट को दो गुना किया जाएगा।प्रतिदिन तकरीबन 25 हजार लोगों पर कार्यवाही करने का रखा गया है,लक्ष्य।

5) शादी के कार्यालय,क्लब,रेस्टोरेंट और अन्य भीड़भाड़ वाली जगहों पर छापा मारने के आदेश दिए गए है।

6) ब्राजील देश से मुंबई जाने वाले यात्रियों को भी अब इंस्टिट्यूटशनल क्वारनटाइन किया जाएगा।

जिन विभागों और इलाको में कोरोना के मरीजी बढ़ रहे है,उन सभी जगहों पर जांच की संख्या को बढ़ाया जाएगा।

मुंबई : मुंबई महानगर पालिका नर अब मुम्बई में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिये हर मुमकिन कोशिश करती नजर त् रही है।

बता दे ,की पिछले कुछ दिनों से मुम्बई में कोरोना मरीजो की संख्या बढ़ रही है ,जिसके चलते अब पहले के मुकाबले और ज्यादा मनपा व्यवस्था को सतर्क रहने की आवश्यकता है।

मनपा कमिश्नर इकबाल सिंह चहल ने अब शख्त निर्देशो के तहत मरीजो की बढ़ती संख्या को ध्यान में रखते हुये जो घर पर ही क्वारनटाइन होंगे,उन सभी मरीजो के हाथों पर मनपा क्वारन टाइन का स्टैम्प लगाएगी।और यदि वे नियम तोड़ते हैं, तो उन पर मुकदमा भी चलाया जाने की तैयारी मनपा की है।

शादी समारोहों के आयोजन में नियमों का उल्लंघन करने पर आयोजकों के खिलाफ भी मामला अब दर्ज किया जा सकता है।

मास्क का उपयोग नहीं करने वाले यात्रियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए,मनपा लोकल में 300 मार्शल तैनात कर रही है। साथ ही और मुंबई में मार्शल गार्ड की की संख्या दोगुनी करने की तैयारी में मनपा ने अपनी कमर कस लीं हैं। चाहिए।

बता दे,की कोरोना वायरस का खतरा अभी तक पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है और नए कोरोनो-वायरस दुनिया के कुछ हिस्सों में फैलने लगे हैं।जबकि मुंबई और महाराष्ट्र में कोरोना के वैक्सीन के जरिये इस पर नकेल कसने की तैयारी में जुटी है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से कोरोना मरीजो की संख्या फिर से अचानक बढ़ने लगी है। जिसके बाद राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सभी को सावधान रहने का निर्देश भी दीये है।

साथ ही मुम्बई मनपा कमिश्नर ने मुम्बई के नागरिकों को और मुम्बई की तरफ जो भी लोग सफर करते है,उन सभी को अलर्ट करते हुए निर्देश देते हुए कहा है,की साल 2020 के जून-जुलाई की स्थिति की तुलना में, कोरोना के संक्रमण की स्थिति फिलहाल नियंत्रण में है। लेकिन जैसे की हाल ही में ,कोरोना के मरीज बढ़ते जा रहे है, उसे देखते हुए मनपा को सतर्क रहने की शख्त जरूरत है।जनजीवन सामान्य होने के लिए सभी नागरिकों को कोरोना के नियमो का पालन करना होगा।क्योंकि खतरा अभी भी टला नही है ।इसलिये बढ़ते खतरे को देखते हुए सख्त कार्यवाही करना जरूरी है।क्योंक संक्रमण को रोकना आवश्यक है। नीचे दिए गए नियमो का पालन कर हम रोकथाम कर सकते है।

1) जिस किसी मे कोरोना के कोई लक्षण नहीं दिखते हैं। ऐसे मरीजों पर पहले की तरह ही कवारनटाईन की मनपा मुहर लगयेगी।साथ ही इस मरीज की सूचना संबंधित विभागों को को दीया जाएगा।कोरोना वार रूम के माध्यम से इन मरीजो पर कड़ी नजर रखी जायेगी।ऐसे व्यक्तियों से दिन में 5 से 6 बार टेलीफोन पर संपर्क किया जायेगा। ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि वे घर पर हैं। साथ ही प्रभावित व्यक्तियों की उचित जानकारी रखकर निकट संपर्क रखने वाले लोगों को अलग रखा जाएगा। चाहिए। यदि होम क्वैरेंटाइन का समय पुरा होने से पहले ही मरीज घर से बाहर चला जाता है, यदि वह किसी सार्वजनिक स्थान पर चलता है, तो सबंधित विभाग को को मनपा के वार्ड वार रूम की सूचना देनी होगी।ताकि वार रूम में ऐसे मरीजों के खिलाफ कार्रवाई कर सके। साथ ही ऐसे मरीजो को संस्थमात्मक कवारन्टाइन किया जाएगा।

2) जिन इमारतों में में पांच से अधिक मरीज पाए जाते है,तो सबंधित इमारत को, सील कर दिया जाएगा।

3) शादी-समारोह,जिम, क्लबों, नाइट क्लबों, रेस्तरां, सिनेमा, बहु-धार्मिक स्थानों, खेल के मैदानों और पार्कों, सार्वजनिक स्थानों, शॉपिंग मॉल और सभी निजी कार्यालयों में मास्क का उपयोग अनिवार्य किया गया है।यदि बिना मास्क के कोई पाया जाता है,साथ ही एक ही समय में एक जगह पर 50 से अधिक वलोग पाए जाते हैं, तो संबंधित व्यक्तियों पर जुर्माना भी लगाया जायेगा साथ ही संबंधित स्थानों और व्यवस्थाओं के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

4) हॉल में जहां शादी समारोह आयोजित किए जाते हैं, वहां का नियमित जांच किया जायेगा। हर दिन कम से कम 5 जगहों पर छापेमारी और जांच कि जायेगी। यदि यहां किसी भी नियम का उल्लंघन किया जाता है, तो संबंधित प्रबंधन के साथ-साथ शादी के आयोजकों और अभिभावकों के खिलाफ भी मामला।दर्ज किया जाएगा।

5) मास्क का सही तरीके से उपयोग न करनेवाले लोगो के खिलाफ साथ ही सार्वजनिक स्थानों पर थूकनेवालो पर भी कर्यवाही की जायेगी।वर्तमान समय मे मुंबई में काम कर रहे 2,400 मार्शल की संख्या दोगुनी होकर 4,800 कर दी गई है।चाहिए।जो बिना मास्क के चलते हैं। इसे देखते हुए, 12,500 लोगो की औसतन संख्या में वृद्धि कर अब प्रतिदिन कम से कम 25,000 लोगो के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जायेगी।

6) मुंबई में वेस्टर्न,सेंट्रल और हार्बर की लोकल रेल सेवाओं में को लोग बिना मास्क के पाए जाएंगे,उन सभी पर कार्यवाही की जाएगी। पहले 100 मार्शल के गार्ड तैनात थे,जो अब बढ़ाकर 300 मार्शल कर दिए गए है।

7) अब पुलिस महकमे के जवान भी बिना मास्क वाले यात्रियों पर कार्रवाई करने का अधिकार दे दिया गया है। और पुलिस सबंधित लोगों पर कार्यवाही कर जुर्माना भी वसूलने के काम करेगी।

8) बीएमसी के अंतर्गत आनेवाले सभी भवन,कार्यालयों,अस्पतालों आदि को आवश्यकताओं के मुताबिक मनपा के शिक्षकों की नियुक्ति की गई है।जो बिना मास्क वाले लोगों पर दंडात्मक कार्यवाही करेंगे।

9) सभी धर्मों के धार्मिक जगहों पर भी पुरुषों की तरह महिला मार्शल की युनिट भी तैनात कि गई है।जिसके तहत बिना मास्क के घूमना,और किसी एक जगह पर 50 से अधिक लोगो के जमा होने पर कार्यवाही की जा सकती है।

10) खेल के मैदानों और पार्कों पर बिना मास्क के पाए जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

11) जिन क्षेत्रों में कोरोना के मरीज अधिक है।उन विभागों में मिशन जीरो के तहत मुहिम चलाई जाएगी।

जिन क्षेत्रों में बड़ी संख्या में नए मरीज पाए जा रहे हैं, उन क्षेत्रों में एरिया मैपिंग की जानी चाहिए और उन क्षेत्रों ज्यादा से ज्यादा जांच (टेस्ट) किए जाएंगे। इसके अलावा, ऐसे क्षेत्रों में, कम से कम 15 करीबी संपर्क व्यक्तियों (मरीजो) को तलाशकर ,हर एक -एक मरीज को अलग -अलग रखे जाने की तैयारी मनपा करने जा रही है

12) झुग्गियों, संकीर्ण बस्तियों, घनी आबादी वाले क्षेत्रों में, संदिग्धों की जाँच के लिए गैर सरकारी संगठनों की मदद से स्वास्थ्य जांच शिविर आयोजित किए जाने चाहिए। मरीज की जांच मोबाइल के माध्यम से जारी रखा जाना चाहिए। जांच किया जाना चाहिए।

13) हाईरिश्क वाले मरीजो के लिए कोरोना केयर सेंटर 1 और जिनमे लक्षण नही है,उनके लिए कोरोना केयर सेंटर 2..इस तरह से अलग -अलग सेंटर को कार्यान्वित किया जाएगा।

14)जंबो कोरोनो उपचार सेंटर की क्षमता के मुताबिक पुरी सुविधा के साथ बेड और ऑक्सीजन बेड की पर्याप्त उपलब्धता होनी चाहिए।

15)बीएमसी क्षेत्र के सभी सरकारी और निजी अस्पतालों के मरीज, मरीज के बिस्तर और अन्य आवश्यक जानकारी हर घंटे एकत्र की जानी चाहिए और यह जानकारी डैशबोर्ड के माध्यम से डिजहास्टर विभाग को अपडेट के लिके देनी चाहिए।

16) केंद्र सरकार के नियमों के अनुसार, अब ब्राजील से भारत आने वाले यात्रियों को भी संस्थागत अलगाव में रहना होगा। नतीजतन, बीएमसी प्रशासन ने मुंबई हवाई अड्डे पर ब्राजील से आने वाले यात्रियों को सात दिनों के संस्थात्मक कवारन्टाइन में जबरन रखने का फैसला किया गया है।और इसका कार्यान्वयन शुरू कर दिया गया है।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

मोबाईल चोरों के ऐसे गिरोह का परदफ़ास किया जो यह से चुरा कर बांग्लादेश और नेपाल भेजते थे

मोबाईल चोरों के ऐसे गिरोह का परदफ़ास किया जो यह से चुरा कर बांग्लादेश और नेपाल भेजते थे 248...

रागिनी फिल्म्स के बैनर तले लखनऊ में बनेगी हिंदी फिल्म, दशहरा के अवसर पर मुहूर्त संपन्न

रागिनी फिल्म्स के बैनर तले लखनऊ में बनेगी हिंदी फिल्म, दशहरा के अवसर पर मुहूर्त संपन्न लखनऊ : फ़िल्म...

ईद मिलाद-उन-नबी के जुलूस को सरकार इजाजत दे नही तो हर मस्जिदों से जुलूस निकलेगा

ईद मिलाद-उन-नबी के जुलूस की अगर सरकार ने नहीं दी अनुमति तो हर मोहल्ले की मस्जिदों से जुलूस निकलेगा

महाराष्ट्र में नहीं होगी बिजली की कटौती : अजित पवार

महाराष्ट्र में नहीं होगी बिजली की कटौती : अजित पवार नवी मुंबई :संवाददाता महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री...

किरायेदार नें किया मकान मालिक को आत्महत्या को मजबूर

किरायेदार नें किया मकान मालिक को आत्महत्या को मजबूर…. किरायदार कें धमकियों सें तंग आकर मकान मालिक नें किया...