होम News मुंबई में अभी नहीं लगेगा लॉकडाउन

मुंबई में अभी नहीं लगेगा लॉकडाउन

मुंबई में अभी नहीं लगेगा लॉकडाउन,

15 दिन तक कोरोना केसों की स्थिति देखने के बाद फैसला,

महाराष्ट्र सरकार कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या को देख कई कठोर निर्णय लिया है जिसमे सीएम उद्धव ठाकरे ने लॉकडाउन का भी संकेत दिया जिससे मुंबईकरों की चिंता बढ़ गई थी। अब बीएमसी कमिश्नर आई.एस. चहल ने यह कहकर राहत दी है कि मुंबई में तत्काल लॉकडाउन की कोई योजना नहीं है। चहल ने कहा, ’15 दिन बाद कोरोना की स्थिति की समीक्षा की जाएगी। उसके बाद लॉकडाउन को लेकर निर्णय लिया जाएगा।

सरकार ने 15 दिन के लिए कुछ प्रतिबंध लगाए हैं। इस दौरान कोरोना मरीजों की संख्या नहीं घटी, तो लॉकडाउन के लिए मजबूर होना पड़ेगा।’ राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने भी कहा, ‘जब अस्पतालों में बिस्तरों की संख्या कम पड़ने लगेगी, तो लॉकडाउन लगाना पड़ेगा।

अचानक लगाना सही नहीं होगा।’चहल ने मंगलवार को बीकेसी जंबो कोविड सेंटर में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद कहा, ‘मुंबई में मरीजों की भारी बढ़ोतरी के बावजूद इलाज के पूरे इंतजाम हैं। अस्पतालों में बेड, आईसीयू, वेंटिलेटर और ऑक्सिजन की कोई कमी नहीं है। जल्द ही 20 हजार अतिरिक्त बेड कोरोना मरीजों के लिए उपलब्ध होंगे।’

सरकार के सहयोगी दल लॉकडाउन के खिलाफ–

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के राज्य में लॉकडाउन की चेतावनी के खिलाफ सरकार में शामिल एनसीपी और कांग्रेस विपक्ष के साथ खड़े नजर आ रहे हैं। एनसीपी का कहना है कि लॉकडाउन विकल्प नहीं हो सकता। वहीं, कांग्रेस ने लॉकडाउन के बजाय कड़ाई बरतने की बात कही है। बीजेपी भी लॉकडाउन का खुलकर विरोध कर रही है।

कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने कहा, ‘मुंबई में लॉकडाउन नहीं लगाना चाहिए। मुख्यमंत्री का बार-बार लॉकडाउन की धमकी देना ठीक नहीं है। लॉकडाउन का पिछला अनुभव बेहद कड़वा रहा है। इस बार कोरोना का टीका भी है, तो क्यों नहीं उसमें तेजी लाई जाए?’ राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण का कहना है, ‘लॉकडाउन लगाना है, तो पहले नौकरीपेशा लोगों और मजदूरों के खातों में सरकार रकम जमा कराए।’

एनसीपी प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा, ‘लॉकडाउन का बोझ अब राज्य नहीं उठा सकता।’ महाराष्ट्र बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने कहा, ‘लॉकडाउन लगाना समस्या का समाधान नहीं है।’ राज्य के ज्यादातर कारोबारी और असंगठित क्षेत्र के श्रमिक भी लॉकडाउन का विरोध कर रहे हैं। फेडरेशन ऑफ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर असोसिएशन के अध्यक्ष विरेन शाह का कहना है, ‘सबको वैक्सीन लगनी चाहिए। लॉकडाउन हल नहीं है।’

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

मध्यमवर्गीय कोरोना मरिजो का सरकारी योजनाओ के तहत मुफ्त इलाज करे – राहुल शेवाले

मध्यमवर्गीय कोरोना मरिजो का सरकारी योजनाओ के तहत मुफ्त इलाज करे सांसद राहुल शेवाले जी ने की मुख्यमंत्री जी...

मजलूम फिलिस्तीनियों के लिए यौमे दुआ करने की अपील

मजलूम फिलिस्तीनियों के लिए यौमे दुआ रजा एकेडमी ने 12 मई को सभी से दुआ करने की अपील की

मुंबई में पिडीयाट्रीक बेड्स बढ़ाने की शुरुवात

तिसरी लहर की आशंका के मद्देनजर बीएमसी ने मुंबई में पिडीयाट्रीक बेड्स बढ़ाने की शुरुवात की है। बीएमसी...

कोरोना की इस महामारी में फुटपाथ पर रहने वाले लोगों का हाल बेहाल है

कोरोना की इस महामारी में फुटपाथ पर रहने वाले लोगों का हाल बेहाल है , इनके पास अनाज का...

बीजेपी सांसद मनोज कोटक द्वारा निशुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर सेवा की शुरुआतइस कार्यक्रम में गायक सोनू निगम विशेष तौर पर मौजूद रहे

बीजेपी सांसद मनोज कोटक द्वारा निशुल्क ऑक्सीजन सिलेंडर सेवा की शुरुआतइस कार्यक्रम में गायक सोनू निगम विशेष तौर पर मौजूद रहे