होम Tech Entertainment भोजपुरिया खलनायक पप्पू यादव ने 'गुरु पूर्णिंमा' के अवसर पर बांटी गीता

भोजपुरिया खलनायक पप्पू यादव ने ‘गुरु पूर्णिंमा’ के अवसर पर बांटी गीता

भोजपुरिया खलनायक पप्पू यादव ने ‘गुरु पूर्णिंमा’ के अवसर पर बांटी गीता


जौनपुर : सनकी दरोगा , पंडित जी बताईं न बियाह कब होइ, जोड़ी न १ , मेरी जंग और आशिक़ आवारा जैसी फिल्मो में अपनी खलनायिकी से वाह वाही लूट चुके अभिनेता पप्पू यादव ने ‘गुरु पूर्णिंमा’ के अवसर अपने गुरु परमहंस स्वामी अड़गड़ानंद महाराज का आशीर्वाद वीडियो कॉल के ज़रिये लिया।

जौनपुर स्थित अपने पैत्रिक आवास पर पप्पू यादव ने एक छोटा सा आयोजन भी रखा जिसमे उन्होंने मौजूद लोगों को पवित्र पुस्तक गीता भेंट की। भोजपुरिया अभिनेता परमहंस स्वामी अड़गड़ानंद महाराज को अपना गुरु मानते हैं। उनका विश्वास है कि अपने जीवन में वो आज जिस मुकाम पर पहुंचे हैं उसमे स्वामी अड़गड़ानंद महाराज के आशीर्वाद का बहुत बड़ा योगदान रहा है।


आप को बता दें कि भोजपुरी परदे पर खुंखार खलनायक के तौर पर जाने जाने वाले पप्पू यादव असल ज़िंदगी में एक बेहद सरल और सज्जन स्वाभाव के इंसान है। भले ही परदे पर वो एक बुरे आदमी को पेश करते हैं लेकिन असल में उनकी ज़िंदगी सिद्धांतों की राह पर चलकर ही कामयाबी की बुलंदियों पर पहुंची है।

मुंबई की चकाचौंध से दूर आजकल जौनपुर स्थित अपने पुरखों के घर में परिवार के साथ कुछ यादगार लम्हे बिता रहे पप्पू यादव लॉक डाउन को भी एन्जॉय कर रहे हैं। वो कहते हैं कि ”फिल्म और टीवी वालों को गाँव घर वालों के साथ वक्त बिताने का मौका कहाँ मिलता है ” इस लॉक डाउन ने थोड़ी फुर्सत तो दे दी ताकि हम भी अपनों को थोड़ा वक्त दे सकें ”.
दिनेश लाल यादव निरहुआ, रवि किशन , खेसारी लाल यादव और अरविन्द अकेला कल्लू जैसे दिग्गज हीरो के सामने खलनायिकी कर चुके पप्पू यादव सरल स्वाभाव के चलते फिल्म इंडस्ट्री में काफी मशहूर हैं।

लोग कहते हैं कि पप्पू भाई को न तो पैसे का घमंड है न रुतबे और स्टारडम का वो सेट पर छोटे से छूटे कलाकार और टेक्निशियंस के कंधे पर हाथ रखकर अक्सर बतियाते देखे जाते हैं।


वैसे आप को ये भी बता दें कि गुरु पूर्णिंमा’ के अवसर पर गीता बाँटने वाले पप्पू यादव इससे पहले रवि किशन के जन्मदिन के मौके पर यतीम बच्चों को कपडे और मिठाई बाँटते हुए भी देखे जा चुके हैं। वहीँ खेसारी लाल यादव के जन्मदिन के अवसर पर पप्पू यादव ने उनके घर जाकर न सिर्फ खेसारी लाल को गीता भेंट की थी बल्कि वहां मौजूद सैकड़ों मेहमानों को भी उन्होंने गीता की प्रति देकर बिदा किया था।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Must Read

मोबाईल चोरों के ऐसे गिरोह का परदफ़ास किया जो यह से चुरा कर बांग्लादेश और नेपाल भेजते थे

मोबाईल चोरों के ऐसे गिरोह का परदफ़ास किया जो यह से चुरा कर बांग्लादेश और नेपाल भेजते थे 248...

रागिनी फिल्म्स के बैनर तले लखनऊ में बनेगी हिंदी फिल्म, दशहरा के अवसर पर मुहूर्त संपन्न

रागिनी फिल्म्स के बैनर तले लखनऊ में बनेगी हिंदी फिल्म, दशहरा के अवसर पर मुहूर्त संपन्न लखनऊ : फ़िल्म...

ईद मिलाद-उन-नबी के जुलूस को सरकार इजाजत दे नही तो हर मस्जिदों से जुलूस निकलेगा

ईद मिलाद-उन-नबी के जुलूस की अगर सरकार ने नहीं दी अनुमति तो हर मोहल्ले की मस्जिदों से जुलूस निकलेगा

महाराष्ट्र में नहीं होगी बिजली की कटौती : अजित पवार

महाराष्ट्र में नहीं होगी बिजली की कटौती : अजित पवार नवी मुंबई :संवाददाता महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री...

किरायेदार नें किया मकान मालिक को आत्महत्या को मजबूर

किरायेदार नें किया मकान मालिक को आत्महत्या को मजबूर…. किरायदार कें धमकियों सें तंग आकर मकान मालिक नें किया...